Tuesday, 13 December 2016

CBSE Class 7 - Hindi - नीलकंठ - प्रश्न - उत्तर (भाग -१ )

नीलकंठ 

प्रश्न - उत्तर
(भाग -१ )

CBSE Class 7 - Hindi - नीलकंठ - प्रश्न - उत्तर (भाग -१ )

प्र.1 “जब मैंने वह पिंजड़ा कार में रखा तब मानो वह जाली के चौखटे का चित्र जीवित हो गया।”- इस पंक्ति का अर्थ स्पष्ट करें ।

उत्तर – पिंजड़े की संकीर्णता के कारण मोर-शावकों का हिलना-डुलना भी मुश्किल था। वे उसमें तार के गोल फ्रेम में जुड़ी तस्वीर की तरह स्थिर दिखाई देते थे, परन्तु कार में पिंजड़ा रखे जाने के बाद जब उनकी हलचल शुरू हुई तो ऐसा लगा जैसे जालीदार पिंजड़े का चित्र सजीव हो गया ।


प्र.2 लेखिका ने मोर के विकास को चमत्कारिक क्यों कहा है?

उत्तर- लेखिका ने मोर के विकास को चमत्कारिक कहा है क्योंकि मोर के सिर की कलगी घनी, लम्बी, और चमकीली हो गई थी| चोंच नुकीली और  पैनी हो गयी थी। आँखों में  नीली चमक आ गयी थी और लम्बी नीली-हरी गर्दन में धुपछाँही तरंगे दिखने लगी थीं।


प्र.3 मोर-मोरनी का नामकरण किस आधार पर किया गया?

उत्तर- नीलाभ  ग्रीवा के कारण मोर का नाम नीलकंठ रखा गया और मोरनी सदा मोर की छाया के समान रहती थी इसलिए राधा कहलाई ।


प्र.4 ‘मंथर’ , ‘छाया’, मंद,  'उष्णता'  शब्दों के विपरीतार्थक शब्द लिखिए ।

उत्तरशब्द  विलोम
मंथर  द्रुत (तेज )
छाया  धूप
          मंद  उच्च,तीव्र
         उष्णता शीतलता




प्र.5 नीलकंठ खरगोश के छोटे बच्चों के साथ सरंक्षक की भूमिका किस प्रकार निभाता था?

उत्तर- सरंक्षक की भाँति नीलकंठ खरगोश के बच्चों की शैतानी पर उन्हें दंडित करने के लिए चोंच से उनके कान पकड़ कर ऊपर उठा लेता था। जब तक वह आर्तक्रंदन करने न लगते, तब तक वह उन्हें अधर  में लटकाए रहता।


प्र.6 जाली घर के अन्य जीव-जंतुओं के प्रति नीलकंठ का क्या व्यवहार था?

उत्तर- नीलकंठ जालीधर के अन्य जीव-जंतुओं की जरा-सी गड़बड़ी पर उन्हें दंडित करता था परन्तु उनके प्रति असाधारण प्रेम व स्नेह की भावना भी उसके हृदय  में विद्यमान थी।


प्र.7 नीलकंठ जाली घर के अन्य जीवों के प्रति अपना प्रेम किस प्रकार व्यक्त करता था ?

उत्तर- नीलकंठ प्रायः मिट्टी में पंख फैलाकर बैठ जाता था और बाकी सभी जीव उसकी लंबी पूँछ और घने पंखों में भाग दौड़ कर छुआ-छुऔअल का खेल खेला करते थे।


प्र.8 राधा ने माली तथा अन्य लोगों को घटना की सूचना कैसे दी?

उत्तर- राधा ने अपनी मंद केका की आवाज से सबको किसी असामान्य घटना की सूचना दे दी। उसकी आवाज सुनकर माली और घर के बाकी सदस्य वहाँ पहुँच गए।


प्र.9 लेखिका के अनुसार भगवान कार्तिकेय ने मयूर को अपना वाहन क्यों चुना?

उत्तर- लेखिका के अनुसार भगवान् कार्तिकेय ने मयूर को अपना वाहन चुना होगा क्योंकि पक्षी होते हुए भी मयूर में मानवीय गुण विद्यमान हैं।  वह वीर,कलाप्रेमी और साहसी है।


प्र.10 कुब्जा कौन थी और उसका स्वभाव कैसा था?

उत्तर- कुब्जा एक मोरनी थी,जिसे लेखिका ने सात रुपये में बड़े मियाँ चिड़ियावाले के यहाँ से खरीदा था। पैरों की अँगुलियाँ टूटी होने के कारण उसका नाम कुब्जा रखा गया था।  जालीघर के किसी जानवर से उसकी मित्रता नहीं थी।


प्र.11 राधा को नीलकंठ से दूर करने के लिए कुब्जा ने क्या किया?

उत्तर- कुब्जा ने राधा को नीलकंठ से दूर करने के लिए चोंच मार-मारकर उसकी कलगी और पंख नोच डाले।

1 comment:

We love to hear your thoughts about this post!