Monday, 18 October 2021

कक्षा १० हिंदी (ब) - अपठित गद्यांश 2021-22 Class 10 Hindi(B) Unseen Passage MCQs Based

अपठित गद्यांश 

कक्षा १० हिंदी (ब) 
Class 10 Hindi(B) Unseen Passage MCQs Based

कक्षा १० हिंदी (ब)  - अपठित गद्यांश 2021-22 Class 10 Hindi(B) Unseen Passage MCQs Based



निर्देश- निम्नलिखित गद्यांश को ध्यानपूर्वक पढकर उन पर दिए गए प्रश्नों के उत्तर सही उत्तर-विकल्प चुनकर लिखिए| 

गद्यांश 

मनुष्य को निष्कामभाव से सफलता-असफलता की चिंता किए बिना.अपने कर्तव्य का पालन करना है। आशा या निराशा के चक्र में फँसे बिना उसे निरंतर कर्तव्यरत रहना है। किसी भी कर्तव्य की पूर्णता पर सफलता अथवा असफलता प्राप्त होती है। असफल व्यक्ति निराश हो जाता है, किंतु मनीषियों ने असफलता को भी सफलता की कुंजी कहा है। असफल व्यक्ति अनुभव की संपत्ति अर्जित करता है, जो उसके भावी जीवन का निर्माण करती है। जीवन में हैं अनेक बार ऐसा होता.है कि हम जिस उद्देश्य की प्राप्ति के लिए परिश्रम करते हैं, वह पूरा नहीं होता। ऐसे अवसर पर सारा परिश्रम व्यर्थ हो गया-सा लगता है और हम निराश होकर चुपचाप बैठ जाते हैं। उद्देश्य की पूर्ति के लिए दोबारा प्रयत्न नहीं करते। ऐसे व्यक्ति का जीवन धीरे-धीरे बोझ बन जाता है। निराशा का अंधकार न केवल उसकी कर्म-शक्ति, वरन् उसके समस्त जीवन को ही ढक लेता है। निराशा की गहनता के कारण लोग कभी-कभी आत्महत्या तक कर बैठते हैं। मनुष्य का जीवन धारण करके कर्म-पथ से कभी विचलित नहीं होना चाहिए।
विध्न-बाधाओं की, सफलता-असफलता की तथा हानि-लाभ की चिंता किए बिना कर्तव्य के मार्ग पर चलते रहने मैं जो आनंद एवं उत्साह है, उसमें ही जीवन की सार्थकता है, ऐसा जीवन ही सफल है।



प्र १ : मनुष्य को किस प्रकार कर्तव्य-पालन करना चाहिए?
(क) निष्काम भाव से
(ख) सफलता-असफलता की चिंता किए बिना
(ग) आशा-निराशा के चक्र में फँसे बिना
(घ)  उपर्युक्त सभी


प्र २ : मनीषियों ने सफलता की कुंजी किसे कहा है
(क) धन को 
(ख) परिश्रम को 
(ग) असफलता को 
(घ) शारीरिक बल को।


प्र ३: असफल व्यक्ति क्या अर्जित करता है?
(क) अपयश 
(ख) अनुभव की संपत्ति
(ग)  धन-दौलत 
(घ) आशा के पुष्प


प्र ४:  कैसे व्यक्तियों का जीवन धीरे-धीरे बोझ बन जाता हैं?
(क) जो असफल होने पर दोबारा प्रयत्न नहीं करते
(ख) जो परिश्रम से जी चुराते हैं
(ग). जो नित्य व्यायाम नहीं करते
(घ) जो धन-दौलत नहीं कमाते


प्र ५:  जीवन की सार्थकता किसमें है?
(क) हर समय सोते रहने में
(ख) बहुत सारा धन कमाने में 
(ग)  कर्तव्य-मार्ग पर चलने के आनंद में 
(घ) दूसरों से अपना काम निकालने में


उत्तर- 
१. (घ) उपर्युक्त सभी
2. (ग) असफलता को
३. (ख) अनुभव की संपत्ति
४. (क) जो असफल होने पर दोबारा प्रयत्न नहीं करते 
५. (ग) कर्तव्य-मार्ग पर चलने के आनंद में 


निर्देश-निम्नलिखित गद्यांश को ध्यानपूर्वक पढकर उन पर दिए गए प्रश्नों के उत्तर सही उत्तर-विकल्प चुनकर लिखिए| 

गद्यांश 

निरक्षरता किसी भी राष्ट्र, समाज एवं स्वयं व्यक्ति के लिए कलंक है। निरक्षर व्यक्ति के पास सोचने-समझने की स्वतंत्र शक्ति नहीं होती। न तो वह् सामाजिक विकास के बारे में सोच सकता है, न तो व्यक्तिगत विकास के बारे में। निरक्षर व्यक्ति अच्छे-बुरे, उचित-अनुचित, कर्तव्य-अकर्तव्य के बीच में अंतर नहीं कर पाता। निरक्षरता के कारण देश को अच्छे नागरिक नहीं मिल पाते। उन्हें अपने अधिकारों और कर्तव्यों का ज्ञान नहीँ हो पाता। उन्हें अपने कीमती वोटों का ज्ञान नहीं होता। थोडे से पैसों के लालच में आकर वे अपने अमूल्य वोट अयोग्य नेताओं को दे देते हैं और इस प्रकार देश का भविष्य गलत हाथों में पड़  जाता है। नेता निर्धारित समय तक अपनी मनमानी करते हैं। उन्हें यह ज्ञात होता है कि इन लोगों को किस प्रकार मूर्ख बनाया जा सकता है। अत: देश में अज्ञानता तथा निरक्षरता को जड़  से हटाने के लिए सामूहिक प्रयत्न आवश्यक है। इसके लिए शिक्षा-व्यवस्था में परिवर्तन घर-घर शिक्षा का दीप जलाना होगा | उन्हें साक्षरता के लाभों से अवगत कराना होगा। शिक्षण संस्थानों में भेदभाव एवं भ्रष्टाचार समाप्त करना होगा तथा आर्थिक रूप से कमजोर लोगों को मुफ्त शिक्षा देनी होगी। हमारे भारत देश का भविष्य तभी उज्जवल होगा जब हर नागरिक साक्षर होगा।

प्र १: किसके कारण देश को अच्छे नागरिक नहीँ मिल पाते हैं?
(क) गरीबी 
(ख) निरक्षता 
(ग) अमीरी 
(घ) मुफ़्तखोरी 


प्र २: हमारे देश का भविष्य कब  उज्जवल होगा?
(क) जब हर नागरिक साक्षर होगा। 
(ख) जब सभी अमीर होंगे।
(ग) जब लोगों में लालच खत्म हो जाएगा।  
(घ) जब सबको मुफ्त शिक्षा मिलेगी।


प्र ३: किस लालच में आकर लोग अपना अमूल्य वोट अयोग्य नेताओं को दे देते हैं?
(क) पैसों के 
(ख) कपडों के 
(ग) मुफ़्त शिक्षा के 
(घ) उपर्युक्त सभी


प्र ४: निरक्षर व्यक्ति किस-किसमें अंतर नहीं कर पाता है?
(क) अच्छे-बुरे 
(ख) उचित-अनुचित 
(ग) कर्तव्य-अकर्तव्य 
(घ) उपर्युक्त सभी


प्र ५: देश के नेता सत्ता में आने पर कैसा व्यवहार करते हैं?
(क) मनमाना 
(ख) अच्छा 
(ग) मूर्खतापूर्ण 
(घ) इनमें से कोई नहीं


उत्तर 
१. (ख) निरक्षता
२. (क) जब हर नागरिक साक्षर होगा। 
३. (क) पैसों के  
४. (घ) उपर्युक्त सभी 
५. (क) मनमाना

👉See this 

2 comments:

We love to hear your thoughts about this post!